Uttarakhand closed on 02 October देहरादून: अंकिता भंडारी के हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग को लेकर 02 अक्टूबर रविवार को विभिन्न राजनीतिक और गैर राजनीतिक संगठनों ने उत्तराखण्ड बन्द का आवाह्नन किया है। इसके मद्देनजर पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। पुलिस ने आमजन से अपील की है कि, किसी भी हिंसात्मक गतिविधियों में शामिल न हो। प्रत्येक व्यक्ति के गतिविधियो मे पुलिस की कड़ी निगरानी रहेगी और गलत और विधि विरूद्ध काम करने वालों के विरूद्ध कठोरतम, दण्डात्मक एवं विधि सम्मत कार्यवाही की जाएगी।

 

02 अक्टूबर रविवार को कुछ राजनीतिक/गैर राजनैतिक संगठनों द्वारा कतिपय विषयों को लेकर उत्तराखण्ड बन्द का आवाह्नन किया गया है। जिसके परिपेक्ष में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा आम जनता से अपील की गई है कि, किसी भी हिंसात्मक गतिविधियों में शामिल न हो। बंद के दौरान किसी भी सरकारी व प्राइवेट संपत्ति को नुकसान न पंहुचाये। पुलिस ने अपील की है कि, शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस को सहयोग प्रदान करें। बंद में सम्मिलित प्रत्येक व्यक्ति के गतिविधियो मे पुलिस की कड़ी निगरानी रहेगी और गलत और विधि विरूद्ध काम करने वालों के विरूद्ध कठोरतम, दण्डात्मक एवं विधि सम्मत कार्यवाही की जाएगी। सभी से निवेदन है कि शाति व्यवस्था बनाये रखें।

एसएसपी के निर्देशन पर जनपद देहरादून को बंद के आवाह्नन के दृष्टिगत कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु 09 सुपर जोन, 21 जोन व 43 सेक्टरों में विभाजित किया गया है। सुपर जोन में सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी, जोन में सम्बन्धित थाना प्रभारी व सेक्टर में सम्बन्धित चौकी प्रभारी के नेतृत्व में पर्याप्त पुलिस बल नियुक्त किया गया है। इसके अतिरिक्त विभिन्न स्थानों पर 1 कंपनी डेढ सेक्सन पुरूष/महिला पीएसी व फायर सर्विस को फायर टेंडर सहित नियुक्त किया गया है। उक्त सम्पूर्ण पुलिस बल पुलिस अधीक्षक नगर व पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय के निर्देशन में नगर/ग्रामीण क्षेत्रों में नियुक्त रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.