देहरादून: जिला परिवार का बेटा पिछले चार माह से लापता हो और पुलिस कुछ पता नहीं लगा पा रही हो। वह परिवार कैसे चुप रह सकता है। उत्तरकाशी निवासी केदार भंडारी मामले में पुलिस अब तक पूरी तरह से फेल साबित हुई है। केदार के माता-पिता को तंग आकर गांधी पार्क में गांधी जी की मूर्ति के सामने धरना देना पड़ा।

पुलिस और सरकार को चाहिए था कि उनकी सुध लेते, लेकिन पुलिस ने ऐसा करने के बजाय परिजनों को जबरन उठाने का प्रयास किया। मामले की जानकारी के बाद कांग्रेस भी समर्थन में उतर आई। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा को मिली तो वह समर्थकों के साथ धरनारत परिजनों को समर्थन देने पहुंच गए। उन्होंने कहा कि पुलिस-प्रशासन की ओर से लापता केदार के साथ किया गया कृत्य माफी के लायक नहीं है।

उत्तरकाशी जिले का केदार भंडारी (22) 18 अगस्त से लापता है। बेेटे की सकुशल वापसी के लिए माता डमरी देवी और पिता लक्ष्मण सिंह भंडारी ने गांधी पार्क में धरना देकर न्याय की गुहार लगाई। उन्होंने बताया कि बेटा चार माह से लापता है लेकिन पुलिस आज तक उसका पता नहीं लगा पाई है।

केदार अग्निवीर की भर्ती रैली के लिए कोटद्वार गया था। घर लौटते समय लक्ष्मणझूला पुलिस उसे चोरी के आरोप में पकड़कर कोतवाली ले गई। इसके बाद आज तक उसका पता नहीं चला। ही उसकी गुमशुदगी दर्ज की गई है। इसी बीच पुलिस दंपति को धरने से जबरन उठाने पहुंच गई। सूचना पाकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष माहरा मौके पर पहुंच गए और पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.