Breaking
April 18, 2024

देहरादून: मौसम रूखा बना हुआ है। लेकिन, पारा लगातार गिर रहा है। तापमान गिरने से ठंड भी बढ़ रही है। जहां मैदानी इलाकों में कोहरा छा रहा है। वहीं, पहाड़ी जिलों में पाला पड़ने लगा है। अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में तापमान में आई भारी गिरावट के कारण नदी, नाले और झरने तक जमने लगे हैं।

इस मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जारी किया है। इसके अनुसार 31 दिसंबर से पहले बर्फबारी हो सकती है और इसके साथ ही पर्यटकों का इंतजार भी खत्म हो जाएगा। मौसम विभाग ने मसूरी के साथ ही राज्य के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में 27 दिसंबर के बाद बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई है।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि उत्तराखंड में अभी पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय नहीं हुआ है। यही कारण है कि हर साल दिसंबर में जो मौसम रहता है, वह इस बार देखने को नहीं मिल रहा है। फिलहाल पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर और अफगानिस्तान के कुछ इलाकों में सक्रिय है।

उन्होंने संभावना जताई कि 27 दिसंबर के बाद राज्य के मैदान से लेकर पहाड़ तक मौसम करवट बदल सकता है। हर साल नए साल का जश्न मनाने पर्यटक मसूरी, धनोल्टी, औली, हर्षिल समेत कई इलाकों में बर्फबारी देखने के लिए बड़ी संख्या में पहुंचतेउ हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *