Breaking
March 4, 2024

उत्तरकाशी: मौसम विभाग का पूर्वानुमान सटीक साबित हुआ है। मौसम ने करवट ली और ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो गई। उत्तरकाशी में गंगोत्री धाम सहित हर्षिल घाटी में शनिवार रात बर्फबारी होती रही। हर्षिल घाटी में यह सीजन की पहली बर्फबारी है। इस समय हर्षिल में तापमान माइनस 4 डिग्री है। पहाड़ों पर हुई बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों में भी नजर आ रहा है।

सर्द हवाओं से पहाड़ से मैदान तक ठिठुरन बढ़ गई है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, आज भी प्रदेश में कहीं-कहीं हल्की वर्षा और बर्फबारी हो सकती है। जबकि, मैदानी क्षेत्रों में हल्का कोहरा छाया रह सकता है। तापमान में भी मामूली गिरावट आने के आसार हैं।

प्रदेश में लंबे समय से मौसम शुष्क रहने के बाद अब वर्षा के असार बनने लगे हैं। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते प्रदेश में कहीं-कहीं बादल मंडरा रहे हैं। शनिवार को दून समेत आसपास के क्षेत्रों में दिनभर धूप और बादलों की आंख-मिचौनी चलती रही।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण प्रदेश में मौसम का मिजाज बदलने की आशंका है। अगले दो दिन चमोली-पिथौरागढ़ समेत आसपास के पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की वर्षा और हिमपात हो सकता है। इसके साथ ही प्रदेश के 3000 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी के आसार हैं।

इसके अलावा मैदानी इलाकों खासकर हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर जिले में कोहरा लोगों को परेशान कर सकता है। मौसम विभाग ने शीतलहर का अलर्ट भी जारी किया है। तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। अगले कुछ दिनों में तापमान में और तेजी से गिरावट आ सकती है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *