कुमाऊं: प्रदेश भर में लगातार भारी बारिश के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग ने 10 अक्टूबर तक के लिए गढ़वाल और खासकर कुमाऊं मंडल के कुछ जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी।

10 अक्टूबर तक के लिए जारी अलर्ट का असर कुमाऊं के कुछ जिलों में दिखने लगा है। सबसे ज्यादा प्रभावित नैनीताल जिला हुआ है, जहां लगातार भारी बारिश के कारण नाले उफान पर हैं और गौला नदी उफनाई हुई है।

भारी बारिश की चेतावनी और लगातार बारिश के बाद के खतरे को देखते हुए जिला मजिस्ट्रेट धीराज सिंह गर्ब्याल ने 10 अक्टूबर (सोमवार) को जनपद के समस्त शासकीय, अर्द्धशासकीय एवं निजी विद्यालयों में (कक्षा 01 से 12 तक संचालित समस्त शैक्षणिक संस्थाओं) एवं आंगनबाड़ी केन्द्र को बंद  रहेंगे।

प्रधानाचार्य/प्रधानाध्यापक, समस्त शैक्षणिक एवं मिनिस्ट्रियल एवं अन्य कार्मिक निर्धारित समयानुसार अपने-अपने विद्यालयों, कार्यालयों में उपस्थित रहने के आदेश दिए है। जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों का अनुपालन न करने पर सम्बन्धित विद्यालय/ संस्थान के विरूद्ध कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

भारत मौसम विज्ञान विभाग देहरादून द्वारा जारी चेतावनी के दृष्टिगत दिनांक 10 अक्टूबर 2022 को जनपद चम्पावत के समस्त शासकीय,अशासकीय विद्यालया में कक्षा 1 से कक्षा 12 तक संचालित समस्त शैक्षणिक संस्थाओं एवं समस्त आंगनबाड़ी केन्द्रों में एक दिवसीय अवकाश घोषित किये जाने के आदेश जिलाधिकारी चंपावत नरेन्द्र सिंह भंडारी द्वारा जारी किए गए हैं।

भारी बारिश को देखते हुए कल अल्मोड़ा जिले के स्कूलों में अवकाश घोषित किया गया है। अपर जिलाधिकारी/प्रभारी जिलाधिकारी सीएस मर्तोलिया ने बताया कि बारिश की संभावना को देखते हुए सोमवार 10 अक्टूबर को कक्षा 1 से 12 तक के सभी शासकीय व अशासकीय विद्यालयों के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित किया है।

उन्होंने मुख्य शिक्षा अधिकारी अल्मोड़ा एवं महिला एवं बाल विकास अधिकारी अल्मोड़ा को उक्तानुसार आदेश का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि शिक्षक और कर्मचारी स्कूलों में बने रहेंगे।

आवासीय भवन की दीवार गिरी

अल्मोड़ा में कर्मचारियों के आवासीय भवन के आगे की सुरक्षा दीवार भरभरा कर गिर गए। दीवार गिरते हुए मकानों में रह रहे लोगों चिल्लाते हुए अपने कमरों से भाग निकले। संयोग से किसी प्रकार की कोई जनहानि नहीं हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.