Rudrapur News : उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले में मुख्य प्रशासनिक अधिकारी ने खौफनाक कदम उठाया है। मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (CAO) का शव यहां फंदे से लटका मिला। पड़ताल के दौरान कमरे से सुसाइड नोट भी मिला है। इस नोट में मौत की वजह और मौत का जिम्मेदार ठहराया गया है। मृतक के दो नाबालिग बच्चे एक बेटा और एक बेटी है।

जानकारी के अनुसार, जिला मुख्यायल रुद्रपुर में जिला उद्योग केंद्र के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी परवीन पंचपाल का शव बुधवार को कमरे में फंदे से लटकता मिला, जिससे हड़कंप मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पड़ताल के दौरान कमरे से सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें मौत के जिम्मेदार विभाग को ठहराया गया है। जिसमें परवीन पंचपाल ने लिखा है कि, वह लंबे समय से बैकपेन से परेशान है। बीमारी के चलते उन्होंने कई बार ट्रांसफर के लिए विभाग से अपील की लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। इसके अलावा काम का बोझ भी ज्यादा है. इसीलिए वे ये कदम उठा रहे हैं।

मूल रूप से पिथौरागढ़ मुनस्यारी निवासी प्रवीण सिंह पंचपाल का मार्च माह में प्रमोशन हुआ था, जिसके बाद ऊधम सिंह नगर जिला उद्योग केंद्र में बतौर मुख्य प्रशासनिक अधिकारी कार्यरत थे। वह कलेक्ट्रेट परिसर स्थित सरकारी आवास में अपने दो बच्चों व पत्नी संग रहते थे।

बताया गया कि, मंगलवार की रात परिवार के सभी लोग खाना खाने के बाद सोने चले गए। पंचपाल अपने कमरे से जब सुबह के करीब 11 बजे तक नहीं उठे तो स्वजनों को शंका हुई। खिड़की से देखने पर पंखे से फंदे के सहारे लटके पति को देख पत्नी चीख पड़ी। जिसके बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। कमरे से थोड़ी गंध भी आ रही थी।

मामले की सूचना सिडकुल पुलिस को दी गई, जिसके बाद पुलिस ने दरवाजा तोड़कर पंचपाल को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं पुलिस ने प्रथम दृष्टया विषाक्त पदार्थ खाने से मौत की बात कह रही है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.