Breaking
April 15, 2024

देहरादून: वीरभूमि के दो वीरों ने देश के लिए जान न्योछावर कर दी है। बताया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में हुए आतंकी हमले में उत्तराखंड के दो लाल शहीद हो गए है। जिसमें एक जवान कोटद्वार (पौड़ी) निवासी गौतम कुमार है तो दूसरा चमोली निवासी बीरेंद्र सिंह। दोनों जवान देश के लिए अपना बलिदान दे गए। दोनों जवानों की शहादत की खबर से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। एक के दो मासूम बच्चे है तो दूसरे की जल्द शादी होने वाली थी। जवानों के बलिदान का समाचार मिलते ही क्षेत्र में मातम पसर गया।

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार दोपहर पुंछ के बफलियाज क्षेत्र में आतंकवादियों ने सेना के दो वाहनों पर घात लगाकर हमला कर दिया था। इसमें उत्तराखंड के दो जवान शहीद हो गए। जिसमें कोटद्वार के शिवपुर निवासी गौतम कुमार (29) भी है। बताया जा रहा है कि गौतम वर्ष 2014 में गौचर में हुई सेना भर्ती रैली में प्रतिभाग कर सेना का हिस्सा बने थे। 89 आर्म्ड रेजिमेंट में राइफलमैन के पद पर कार्यरत गौतम की तैनाती इन दिनों जम्मू-कश्मीर में पुंछ जिले के राजौरी सेक्टर में थी। वह 30 नवंबर को छुट्टी लेकर घर आए थे और 16 दिसंबर को उन्होंने ड्यूटी पर वापसी की थी। उनकी मार्च में शादी होनी थी। घर में शादी की तैयारियां चल रही थी। इस बीच उनकी शहादत की खबर से परिवार में कोहराम मच गया है।

वहीं चमोली में भी कोहराम मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि चमोली जिले में नारायणबगड़ विकासखंड के सैनिक बाहुल्य गांव बमियाला निवासी बीरेंद्र सिंह (33) भी इस आतंकी हमले में शहीद हुए है। वह वर्ष 2010 में सेना की 15 गढ़वाल राइफल में बतौर राइफलमैन भर्ती हुए थे। वर्तमान में वह भी पुंछ में तैनात थे। बीरेंद्र ने छह जनवरी को छुट्टी पर घर आने की बात कही थी। वह अपने पीछे पत्नी शशि देवी और दो बेटियों इशिका (5) व आयशा (3) को छोड़ गए हैं। उनकी शहादत की खबर से उनके परिवार में कोहराम मचा हुआ है। पत्नी, माता-पिता व अन्य स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *