देहरादून : देवभूमि का एक और लाल देश की सीमा पर शहीद हो गया है. शहादत की खबर सियाचिन ग्लेशियर से आ रही है, जहां हवलदार जगेंद्र सिंह चौहान शहीद हो गए। शहादत की खबर से क्षेत्रवासियों में शोक की लहर है.

जानकारी के अनुसार डोईवाला के कान्हरवाला, भानियावाला में रहने वाले जगेंद्र सिंह चौहान सियाचिन ग्लेशियर में तैनात थे। 325 लाइट ए डी बटालियन मे कार्यरत थे जगेंद्र सिंह चौहान जिनकी उम्र 35 वर्ष थी। हालांकि उनके पिता सेवानिवृत्त सूबेदार मेजर राजेंद्र सिंह चौहान भी भानियावाला में रहते हैं। उनकी माता श्रीमती विमला देवी है। वह विवाहित थे उनकी पत्नी का नाम श्रीमती किरण चौहान है इनके कोई संतान नहीं है। कल रात्रि सेना द्वारा उनके परिवार को संपर्क कर उनके शहीद होने की सूचना दी गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सियाचिन ग्लेशियर क्षेत्र में अत्यधिक बर्फबारी के कारण वहां से पार्थिव शरीर को लाने में समय लग रहा है।

वही परिजनों के मुताबिक उनका पार्थिक शरीर कल या परसों उनके निवास स्थान डोईवाला  पहुंचेगा।
सहादत की खबर सुनकर बुरी तरह क्षेत्र में शोक की लहर छाई हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.