Breaking
May 28, 2024

देहरादून। उत्तराखंड में वनाग्नि की घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने अधिकारियों के साथ बैठक की है, जिसके बाद मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के द्वारा जो निर्देश दिए गए थे उन्हें अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है,पराली जलने पर रोक को लेकर जो निर्देश मुख्यमंत्री के द्वारा दिए गए थे,उसके आधार पर सभी जिलाधिकारियों द्वारा जिलों में आदेश जारी कर दिए गए हैं। आपदा मद से सभी जिलों को बजट भी जारी कर दिया गया है, वहीं छोटे वॉटर टैंकर खरीद कर पहाड़ी क्षेत्रों में पंप के जरिए आग बुझाने का काम भी अब किया जाएगा। वहीं मुख्य सचिव राधा रतूड़ी का कहना है कि अब तक वनाग्नि की घटनाओं से पांच लोगों की मौत हुई है,पौड़ी और अल्मोड़ा जिले में सबसे ज्यादा हालात खराब है,जिसको देखते हुए एनडीआरएफ की मदद भी आग बुझाने को लेकर ली जा रही है।

गैंगस्टर एक्ट के तहत होगा मुकदमा

वही डीजीपी अभिनव कुमार का कहना है कि पुलिस के द्वारा ऐसे लोगों पर सख्त नजर रखी जा रही है,जो लोग वनाग्नि की घटनाओं में लिप्त है पाए जाएंगे, उन पर गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा और उनकी संपत्ति की भी कुर्की की जाएगी।

नोडल अधिकारी तैनात

वही प्रदेश में वनाग्नि की घटनाओं को देखते हुए प्रमुख वन संरक्षक के द्वारा जिलों में नोडल अधिकारियों की तैनाती भी कर दी गई है जिसको लेकर आदेश जारी कर दिया गया है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *