Breaking
Fri. Dec 1st, 2023

Uttarakhand News: विपिन रावत मौत मामले में चौकी प्रभारी पर गाज गिरी है। एसएसपी ने चौकी इंचार्ज दरोगा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। चौकी इंचार्ज को दून पुलिस लाइन अटैच कर दिया गया है। मामले से आक्रोशित परिजनों समेत स्थानीय लोगों ने आज निजी अस्पताल में पहुंचकर हंगामा किया।

मामला 25 नवंबर 2022 का है। देहरादून के इनामुल्लाह बिल्डिंग पर दो पक्षों के बीच मारपीट की घटना सामने आई थी। इस मामले में चमोली निवासी विपिन रावत पर कहासुनी के बाद एक युवक ने हमला कर दिया था और बेसबॉल के डंडे से उसके सिर पर वार किया था। इसके बाद घायल विपिन रावत को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां आज उसकी मौत हो गई। इस मामले में आरोपित विनीत अरोड़ा को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी के साथ एक युवती भी थी, जिसने मौके पर मृतक विपिन रावत के साथ आई अन्य युवती के साथ मारपीट की थी।

25 नवंबर को कोतवाली नगर देहरादून पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 557/2022 धारा 307/323/504,506 भादवि की विवेचना में उ0नि0 प्रवीण सैनी चौकी प्रभारी लक्खीबाग द्वारा विवेचना में लापरवाही करने व अभियुक्तगणों की गिरफ्तारी ना करने के गम्भीर आरोप में आज शनिवार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने तत्काल प्रभाव से उपनिरीक्षक प्रवीण सैनी को निलंबित कर दिया।

वहीं देहरादून में विपिन रावत की मौत के बाद बदरीनाथ विधायक राजेंद्र भंडारी समेत क्षेत्रीय लोग निजी अस्पताल में इकट्ठा हुए और देहरादून के लक्खीबाग चौकी इंचार्ज पर हत्या के आरोपियों से मिलीभगत का आरोप लगाया। उन्होंने पुलिस की कार्यप्रणाली पर नाराजगी जाहिर की। इस दौरान आरोप लगाए गए कि, आरोपितों को राहत देने के लिए पुलिस ने हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही आरोप लगाया कि, मामले को रफा-दफा करने की पूरी कोशिश की जा रही है। साथ ही स्वजनों से समझौता करने की भी बात की जा रही है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *