देहरादून: उत्तराखंड में लगातार सड़क हादसों के मामले सामने आ रहे हैं। आज एक जेसीबी दुर्घटनाग्रस्त होकर सड़क से नीचे खाई में जा गिरी और बीच में ही एक पेड़ से अटक गई। जेसीबी को कई रस्सों से बांधकर किसी तरह गहरी खाई में गिरने से रोका गया और जेसीबी को काटकर दोनों घायलों को बाहर निकाला गया। फिलहाल घायलों की स्थिति खतरे से बाहर है। जेसीबी चालक ने दुर्घटना का कारण ब्रेक फेल होना बताया गया।

पुलिस के अनुसार, आज रविवार को कोतवाली पुलिस को सूचना मिली कि, हथियारी से आगे 2 किलोमीटर भलेर रोड पर एक जेसीबी दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। जिस पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली विकासनगर द्वारा चौकी प्रभारी डाकपत्थर को घटना स्थल पर तुरन्त पहुंचने और आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। इस पर चौकी प्रभारी डाकपत्थर अर्जुन सिंह गुसाईं मय कॉन्स्टेबल रविंद्र चौहान व फायर सर्विस LFM रामशंकर मय टीम व आवश्यक उपकरणों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे।

यहां जेसीबी रोड से करीब 100 मीटर की दूरी पर गहरी खाई में गिरकर हल्की पेड़ पर अटकी हुई थी। जिसके अंदर 2 व्यक्ति बुरी तरह फंसे हुए थे। इनमे जेसीबी ऑपरेटर सुभाष पुत्र सत्यपाल (निवासी आदूवाला जूडली थाना विकासनगर) और नितेश कुमार पुत्र मित्तर (निवासी आदुवाला थाना विकासनगर जनपद देहरादून) शामिल थे।

इस दौरान जेसीबी और गहरी खाई में न गिरे, इसके लिए पुलिस ने ग्रामीणों की मदद ली और जेसीबी को कई रस्सों से बांधा गया। वहीं घायलों को सकुशल निकालने के लिए गैस कटर से जेसीबी के पार्ट को काटा गया। साथ ही जेसीबी के नीचे खुदाई कर दोनों घायलों को निकाल कर एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल भेजा गया। हादसे के दोनों घायलों की स्थिति खतरे से बाहर है। जेसीबी चालक द्वारा दुर्घटना का कारण ब्रेक फेल बताया गया।

पुलिस टीम में SI अर्जुन सिंह गुसाईं, चौकी प्रभारी डाकपत्थर; कांटेबल रविंद्र चौहान, LFM रामशंकर, कृपा राम, DVR खजान सिंह, FM अरविंद सिंह, सबल सिंह और धीरेन्द्र सिंह शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.