-BJP में बवाल, त्रिवेंद्र-तीरथ दिल्ली तलब, लोग उठा रहे सवाल

देहरादून: उत्तराखंड BJP में एक बार फिर घमासान मचा हुआ है। यह घमासान किसी और ने नहीं, बल्कि CM की कुर्सी से बेदखल किए गए दो पूर्व मुख्यमंत्रियों ने मचाया है। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीरथ सिंह रावत के हालिया बयानों के बाद से BJP में देहरादून से लेकर दिल्ली तक हलचल मची हुई है।

दोनों नेताओं के बयानों के बाद BJP के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने तुरंत दिल्ली के दौड़ लगाई और दोनों नेताओं के बड़े नेताओं से शिकायत भी कर दी और उनसे स्पष्टीकरण भी मांगा। बयान के बाद RSS और BJP आलाकमान हरकत में है।

दोनों नेताओं को दिल्ली तलब कर उनको संयमित बयान देने की सलाह दी गई है। साथ ही यह भी हिदायत दी गई है कि जो भी बयान देना है, वह पार्टी फोरम में दें। सार्वजनिक जगहों पर इस तरह के बयान देने से बचें।

पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा था की कमीशनखोरी अपने चरम पर है। यूपी से अलग राज्य बनने के बाद यह उम्मीद की जा रही थी कि कमीशनखोरी को पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी लेकिन राज्य में 20% का कमीशन का खेल बदस्तूर जारी है।

वहीं, दूसरी ओर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्मार्ट सिटी के कामों पर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने कहा था उनके कार्यकाल में स्मार्ट सिटी का काम बहुत अच्छी तरीके से चल रहा था। लेकिन, अभी स्मार्ट सिटी का काम पटरी से उतरा हुआ है।

बार-बार स्मार्ट सिटी के लिए पूर्व निर्धारित प्लान को बदलकर नए-नए प्लान बनाए जा रहे हैं, जिससे स्मार्ट सिटी का काम ठप सा हो गया है। साथ ही स्मार्ट सिटी के CEO बदले जाने पर उन्होंने गंभीर सवाल खड़े किए थे।

इन्हीं तमाम मसलों को लेकर BJP में घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस ने भी दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों के बयानों को मुद्दा बनाकर BJP को आड़े हाथों लिया। साथ ही सोशल मीडिया से लेकर चौक-चौराहों पर भी लोग इन बयानों की खूब चर्चा कर रहे हैं, जिससे BJP पूरी तरह से असहज नजर आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.