BNB Fraud: फर्जी एप के जरिए अधिक प्रॉफिट का प्रलोभन देकर हजारों लोगों से ठगी, शिकायत के बाद जांच में जुटी पुलिस; ऐसे बनाते शिकार..

BNB Fraud: फर्जी एप के जरिए अधिक प्रॉफिट का प्रलोभन देकर हजारों लोगों से ठगी, शिकायत के बाद जांच में जुटी पुलिस; ऐसे बनाते शिकार..

BNB App fraud: देशभर में Cyber Crime के खिलाफ जागरूकता अभियान के बावजूद आए दिन हजारों लोग ठगी का शिकार हो रहे हैं। साइबर अपराधी ठगी के लिए हर दिन नए-नए तरीके अपना रहे हैं और आमजन उनके जाल में आसानी से फंस भी रहे हैं। इंटरनेट मीडिया पर लुभावने विज्ञापन, ऑफर, पैसे दोगुने करने के लिए निवेश समेत तमाम तरह से ठगी की जा रही है। वहीं अब BNB नाम की एप से हजारों लोगों के साथ ठगी हुई है।

क्या है BNB ?

बिनेंस या बाइनेंस (BINANCE) दुनिया की सबसे बड़ी crypto exchange है, जो खुद के ब्लॉकचैन पर काम करती है। 2015 में शुरू हुए इस एक्सचेंज की मदद से आप एक कॉइन को दूसरे कॉइन में trade कर अदला-बदली कर सकते हैं। BNB उर्फ़ Binance Coin दरअसल Binance क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज और उससे संबंधित ब्लॉकचेन जैसे कि Binance Chain और Binance Smart Chain का नेटिव क्रिप्टो टोकन है।

साइबर ठगों ने तैयार की फर्जी BNB एप

वहीं इसी BINANCE यानि BNB कंपनी का नाम, लोगो और वेबसाइट की कॉपी कर BNB नाम से एक फर्जी एप व वेबसाइट साइबर ठगों द्वारा बनाई गई। ठगों ने इसके लिए लॉग इन वेबसाइट www.lyc.one नाम से बनाई, जबकि असली BNB की वेबसाइट www.binance.com नाम से है। साथ ही सपोर्ट के नाम पर यूनाइटेड किंगडम के व्हाट्सएप नंबर दिए गए हैं। इनको लेकर कई व्हाट्सएप ग्रुप बनाए गए हैं, जहां ज्वाइनिंग, रिचार्ज से लेकर पैसे निकालने की जानकारी साझा करनी होती है।

भारी प्रॉफिट का प्रलोभन देकर फर्जी BNB एप से ठगी

ठगों द्वारा इस फर्जी BNB के जरिए इन्वेसमेंट करने पर अच्छा खासा प्रॉफिट का प्रलोभन दिया जा रहा था। ठगों ने अधिक मुनाफा कमाने और लोगों को गुमराह करने के लिए शुरुआत में कुछ यूजर को पैंसे निकालने की सुविधा भी दी। इसके बाद बड़े स्तर पर इन्वेस्ट होने पर वेबसाइट को बंद कर दिया गया। इस तरह के ठगी के मामलों में ठग बार – बार डोमेन आईडी यानी नई – नई वेबसाइट के जरिए लोगों को ठगने का काम करते हैं।

बार – बार नई वेबसाइट बनाकर करते हैं ठगी

इस मामले में ठग पहले www.bit.ly के जरिए लॉग इन और एप डाउनलोड करवाते थे, लेकिन जब लोग जागरूक हुए तो उन्होंने ये वेबसाइट बंद कर दी और इसमें पैसे लगाने वाले सभी लोगों के पैंसे डूब गए। इसके बाद ठगों ने नई वेबसाइट www.lyc.one बनाई, अब इसे भी बंद कर दिया गया है और सभी के पैसे यहां भी डूब गए। इतना ही नहीं ठगों ने एक और नई वेबसाइट बनाई है, जो कई जगह वायरल हो रही है। ऐसे में लोगों को जागरूक होने की जरूरत है।

सैनिक से लेकर महिलाएं तक हुई ठगी का शिकार, लोगों में जागरूकता की कमी

इस फर्जी BNB मामले में स्टूडेंट, नौकरी पेशा, कई सैनिक, महिलाएं समेत अन्य लोगों से ठगी हुई है। इन लोगों का कहना है कि, उन्होंने इसमें एक हजार रुपए से लेकर लाखों रुपए तक का इन्वेस्ट किया था। कई लोगों ने इसको लेकर शिकायत भी दर्ज कराई है। हालांकि, फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है। लेकिन कई बार लोग केवल कुछ रुपए का नुकसान समझकर इसकी शिकायत नहीं करते हैं, जिससे ठगों के हौसले बुलंद होते जाते हैं। जबकि, लगभग सभी राज्यों में साइबर क्राइम को लेकर ऑनलाइन शिकायत की सुविधा दी गई है, जिसको लेकर लोगों में जागरूकता की कमी देखी जाती है।

यूट्यूब चैनल कुछ कमीशन के लालच में करते हैं इनका प्रमोशन

वहीं आशंका है कि, इस एप को लेकर ठगों ने कई यूट्यूब चैनल को संभवतः अच्छी खासी रकम या कमीशन भी दी है, जो मामला खुलने पर इनसे पूछताछ में साफ हो पाएगा। साथ ही ऐसे फर्जी एप का उपयोग करने के लिए लोगों को गुमराह करने वालों पर भी कार्यवाही हो सकती है।

साइबर क्राइम को लेकर आमजन से अपील

इसके अलावा लोगों से अपील की गई है कि, ऐसे किसी भी प्रलोभन में ना फंसे और किसी भी एप पर विश्वाश पर अपने मोबाइल में इंस्टाल ना करें। इससे आपकी प्राइवेसी को भी खतरा हो सकता है। ये ऐप्स आपके फोन का एक्सेस ले लेते हैं और आपकी एभी जानकारी इन ठगों के हाथ लग जाती है। ऐसे में जागरूकता ही इससे बचाव है।

Avatar

ताज़ा कवरेज (Taza Coverage)

ये भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *