नई दिल्ली: पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी PFI के खिलाफ देशभर में पहली बार एक साथ बड़े स्तर पर कार्रवाई की गई है। दिल्ली में भी NIA की छापेमारी चल रही है। जांच एजेंसी ने दिल्ली में PFI के हेड परवेज आलम को गिरफ्तार किया गया है। आतंकी कनेक्शन को लेकर जांच एजंसियों के रडार पर आई एजेंसी के 3 एजेंट को दिल्ली में पकड़ा गया है। नोएडा में भी ATS और NIAकी टीम छापेमारी कर रही है।

इस बीच दिल्ली में एनआईए के दफ्तर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। देश के कई हिस्सों में छापेमारी के खिलाफ संगठन के सदस्य सड़कों पर विरोध जताने उतर गए हैं। NIA और ED ने गुरुवार सुबह 10 राज्यों में आतंकी वित्त पोषण में कथित तौर पर शामिल संदिग्धों के ठिकानों पर छापेमारी की।

दलेगी सेना की वर्दी, रेजिमेंटों के भी नए होंगे नाम!

छापेमारी के दौरान NIA और ED ने आतंकियों का कथित तौर पर समर्थन करने के आरोप में PFI के लगभग 100 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया।’ अधिकारियों के मुताबिक, छापेमारी मुख्यत: दक्षिण भारत में की जा रही है और एनआईए ने इसे ‘अब तक का सबसे बड़ा जांच अभियान’ करार दिया है।

NIA ने कहा कि आतंकवदियों को कथित तौर पर धन मुहैया कराने, उनके लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था करने और लोगों को प्रतिबंधित संगठनों से जुड़ने के लिए बरगलाने में शामिल व्यक्तियों के परिसरों पर छापे मारे जा रहे हैं। अधिकारियों के अनुसार, छापेमारी दस राज्यों में की जा रही है और इस दौरान पीएफआई के शीर्ष नेताओं सहित लगभग 100 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.