ऋषिकेश: अंकिता मर्डर केस में लोगों को गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। पोस्टमार्टम के बाद अंकिता भंडारी के शव को श्रीनगर गढ़वाल उनके पैतृक घाट के लिए रवाना किया गया। इस दौरान ऋषि‍केश AIIMS मोर्चरी में मौजूद लोगों ने एंबुलेंस को रोकने का प्रयास किया। उनकी मांग थी कि पहले अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए।

लोगों ने रोकी एंबुलेंस, किया प्रदर्शन
करीब चार बजे अंकिता भंडारी के पार्थिव शरीर को पोस्टमार्टम के बाद मोर्चरी से बाहर लाया गया। पार्थिव शरीर को एंबुलेंस में रखा गया तो यहां मौजूद नागरिकों ने एंबुलेंस के आगे आकर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।

उत्तराखंड ब्रेकिंग: Ankita Murder Case में CM धामी का बड़ा एक्शन, इनको हटाने का आदेश जारी

अंकिता के साथ क्या हुआ?
उनका कहना था कि अंकिता के साथ क्या हुआ, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में क्या बात सामने आई, इसको सार्वजनिक किया जाए। पुलिस तथा प्रशासन ने भीड़ को समझाने की कोशिश की। मगर कोई असर नहीं हुआ।

उत्तराखंड: Ankita Murder Case गुस्से में देवभूमि, रिजॉर्ट पर लगाई आग, विधायक की गाड़ी के शीशे फोड़े

पुलिस के खिलाफ नारेबाजी
पुलिस ने इसी तरह से भीड़ को हटाकर इसी तरह एंबुलेंस को एम्स परिसर से बाहर भेजा। इस दौरान नागरिकों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। पार्थिव शरीर के साथ अंकिता के पिता तथा भाई एंबुलेंस में रवाना हुए हैं।

पिता ने मांगी फांसी की सजा
अंकिता के पिता वीरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा कि उनकी बेटी को दरिंदों ने मार डाला है, इसके लिए वह दरिंदों के लिए फांसी की सजा चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वीडियो और लोगों की मदद से ही शिकायत को गंभीरता से लिया गया। उन्होंने कहा कि आरोपितों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए, ताकि कोई और बेटी इस तरह की दरिंदों की शिकार ना बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published.